नागरिक अधिकार-पत्र

हमारा लक्ष्य
अंतर्राष्ट्रीय मानदण्ड की बंदरगाह सेवाएं प्रदान करना।

हमारी परिकल्पना
कामराजर बंदरगाह को विश्व स्तरीय सुविधाओं वाले एक विशाल बंदरगाह के रूप में विकसित करना ताकि यह भारत का पूर्वी द्वार बंदरगाह बन सके।

हमारा उद्देश्य
कार्गो प्रबंधन टर्मिनल के विकास में निजी सहभागिता आकर्षित करना और जहाजों और समुद्री पर्यावरण की सुरक्षा सुनिश्चित करना।

संगठन की संक्षिप्त प्रोफाइल
भारत के पूर्वी तट में चेन्नई बंदरगाह से लगभग 20 किमी उत्तर की दूरी में एक हरित क्षेत्र अवस्थिति के रूप में कामराजर बंदरगाह का विकास किया गया था। मार्च 1999 में भारतीय बंदरगाह अधिनियम,1908 के अंतर्गत इस बंदरगाह को एक प्रमुख बंदरगाह के रूप में घोषित किया गया था और अक्टूबर 1999 में कंपनी अधिनियम, 1956 के अंतर्गत इसे एक कंपनी (एन्नोर पोर्ट लिमिटेड) के रूप में समाविष्ट किया गया था। इस बंदरगाह को जून, 2001 में शुरू किया गया, जिसमे दो समर्पित कोयला बर्थ और अनुपार्श्व गहराई 15 मीटर थी और तब से यह तमिलनाडु विद्युत् बोर्ड (टीएनईबी) के बिजली घरों के लिए तापीय कोयले का संचालन करता है। तरल, कोयला और लौह अयस्क को संभालने के लिए निजी क्षेत्रों के सहभागिता के माध्यम से बंदरगाह में टर्मिनलों का विकास हुआ है। यह बंदरगाह पीपीपी मोड के माध्यम से कंटेनर टर्मिनल के विकास के लिए कार्रवाई कर रहा है। बंदरगाह प्रबंधन अपने आवश्यक मुख्य कर्मचारियों के साथ एक भूमि-स्वामी बंदरगाह के रूप में कार्य कर रहा है।

वित्तीय प्रदर्शन
वित्तीय प्रदर्शन केपीएल ने लाभ अर्जित करने का एक सुसंगत ट्रैक रिकॉर्ड बनाया है और अपने निवेशों पर पर्याप्त लाभ कमा रहा है। वर्ष 2010-2011 के लिए, इसकी सकल आय थी रु. 168.11 करोड़ और कर चुकाने के बाद कुल लाभ था रु. 55.58 करोड़। कामराजर बंदरगाह की पिछले 3 वर्षों का वित्तीय प्रदर्शन नीचे प्रस्तुत किया गया है:

विवरण (रु. करोड़ में) 2013-14 2014-15 2015-16
सकल आय Rs.520.66 Rs.597.51 Rs.625.05
व्यय (ब्याज, मूल्यह्रास और कर के बिना) Rs.59.55 Rs.76.77 Rs.84.53
ब्याज, मूल्यह्रास और कर चुकाने से पूर्व सकल लाभ Rs.461.11 Rs.521.07 Rs.540.52
कर चुकाने से पूर्व लाभ (पीबीटी) Rs.400.19 Rs.425.82 Rs.445.88
कर चुकाने के बाद लाभ (पीएटी) Rs.316.31 Rs.336.57 Rs.350.72
प्रस्तावित लाभांश Rs.96 Rs.96 Rs.105

भिन्न विभागों का प्रदर्शन एवं उत्तरदायित्व:

1. सतर्कता विभाग

यहाँ पर क्लिक करे बाहरी लिंक:यह एक नए विंडो में खुलेगा जानकारी देखने के लिए

2. समुद्री विभाग

  • समुद्री सेवाएं प्रदान करना जैसे कि बर्थिंग, अन-बर्थिंग और जहाजों पर स्थानांतरण के लिए मार्गदर्शन, कर्षण/ चालन इत्यादि; नौबंध प्रमोचन किराया, नौबंध सेवाएं इत्यादि
  • सरकार के परिपत्रों के अनुसार बर्थिंग आवंटन और प्राथमिकता बर्थिंग पर कार्यान्वयन
  • पूंजी और निकर्षण रखरखाव
  • बंदरगाह के द्रोणी, जलमार्ग, अनुपार्श्व बर्थों इत्यादि का सर्वेक्षण
  • बंदरगाह संकेत घर के माध्यम से जहाजों इत्यादि, बंदरगाह के उपयोगकर्ताओं सहित संप्रेषण की व्यवस्था
  • नौचालन उपकरणों इत्यादि; संचार उपकरणों का रखरखाव
  • आपातकाल के दौरान टर्मिनल परिचालकों / बंदरगाह के उपयोगकर्ताओं के इस्तेमाल के लिए (24 घंटे) एम्बुलेंस
  • व्यावसायिक स्वास्थ्य केंद्र
  • बंदरगाह के उपयोगकर्ताओं के लिए सुरक्षा रखरखाव और निगरा
  • अग्निशमन सुविधाओं की स्थापना और रखरखाव
  • वायु और समुद्री / भूजल गुणवत्ता की निगरानी
  • कस्टम और बंदरगाह के उपयोगकर्ताओं के साथ पीसीएस / ईडीआई संदेशों का विनिमय
  • आईएसपीएस संहिता के अनुसार सुरक्षा अनुपालन
  • यातायात संबंधी मुद्दे

परिचालना विभाग

  • वार्षिक योजना, व्यवसाय योजना और मास्टर प्लान तैयार करना
  • कार्य योजनाओं की तैयारी और निष्पादन
  • परियोजना मूल्यांकन और विकास
  • यातायात गतिविधियों में सुधार के लिए बंदरगाह के अंदर सड़कों और रेल नेटवर्क की योजना बनाना और शहर / राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क और रेलवे नेटवर्क तक बाहरी संपर्कता की स्थापना करना और इनमे सुधार लाना।
  • सिविल अवसंरचनाओं और संरचनाओं का निर्माण और रखरखाव
  • बंदरगाह के उपयोगकर्ताओं के लिए विद्युत आपूर्ति और रखरखाव
  • जमीनी मामले
  • नगरी विकास
  • निविदाएं तैयार करने, अनुबंध प्रदान करने और कार्य निष्पादन के पर्यवेक्षण के लिए परामर्शदाता / ठेकेदारों की नियुक्ति
  • निविदा आमंत्रित करना और अनुबंध प्रदान करना
  • विवाचन मुद्दे

वित्त एवं कंपनी सचिव विभाग

  • सभी विभागों के अध्यक्षों से प्राप्त सहयोग के आधार पर पूंजी और राजस्व बजट तैयार करना
  • लेखों का विनियोजन, पुन: विनियोजन, समर्पण और बचत
  • कंपनी को देय सभी बकाया रकमों, शुल्क, किराए या अन्य रकम का एकत्रण
  • व्यय प्रबंधन
  • लेखा-परीक्षा और करों का प्रशासन
  • ऋण, संस्थागत वित्त, ऋण और निवेश इत्यादि के माध्यम से संसाधनों की लामबंदी
  • कंपनी द्वारा प्रदान किए गए ऋणों के संबंध में ब्याज, मूल पूंजी और निक्षेप निधि के कारण बकाया रकमों का देय तिथियों पर भुगतान
  • वित्तीय सहमति और सलाह
  • कंपनी के विभिन्न निधियों के ऋण पर नकदी शेष बनाए रखने के लिए कंपनी के निधियों को सबसे अधिक लाभप्रद ढंग से निवेश किया जाता है
  • कानूनी और सचिवालय कार्य
  • बोर्ड की बैठकों, एजीएम आदि का आयोजन
  • आरओसी में सांविधिक लाभ दायर करना
  • सभी निविदाओं, खरीद प्रस्तावों और खरीदारियों से संबंधित समझौतों की जांच करना
  • अन्य विभाग प्रमुखों द्वारा प्रस्तुत जानकारी से कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट का संकलन

निगमों की रणनीति और व्यवसाय विकास (योजना और परियोजनाएं):

  • व्यवसाय योजना और मास्टर प्लान की तैयारी
  • कार्य योजनाओं की तैयारी और निष्पादन
  • आवश्यकता अनुसार नए पीपीपी / गैर-पीपीपी परियोजनाओं की पहल
  • यातायात गतिविधियों में सुधार और शहर / राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क और रेल नेटवर्क तक के संपर्कता में सुधार के लिए बंदरगाह के अंदर/ बाहर सड़कों और रेल नेटवर्क की शुरुआत
  • निविदाएं तैयार करने, अनुबंध प्रदान करने और कार्य निष्पादन के पर्यवेक्षण के लिए परामर्शदाता / ठेकेदारों की नियुक्ति
  • निविदा आमंत्रण और अनुबंध प्रदान करना
  • निकर्षण परियोजनाओं का आरंभ
  • समझौता ज्ञापन की तैयारी
  • मौजूदा टर्मिनलों की क्षमता वृद्धि परियोजनाओं का आरंभ

मानव संसाधन विकास

  • नए कर्मचारियों की भर्ती और प्रेरण
  • कर्मचारियों की परिवीक्षा और स्थायित्व की घोषणा
  • कर्मचारियों के लिए प्रशिक्षण प्रदान करना
  • वेतन वृद्धि / वेतन निर्धारण / वेतन प्रसंस्करण/li>
  • पीएमएस और पीआरपी
  • निजी फाइलों और लीव कार्डों का रखरखाव
  • पदोन्नति
  • प्रतिनियुक्ति के आधार पर अन्य सरकारी संगठनों से कर्मचारियों की नियुक्ति
  • मानव संसाधन नीतियों का सूत्रण
  • चिकित्सा, एचबीए और वाहन पेशगी का प्रसंस्करण
  • सतर्कता और अनुशासनात्मक मामले
  • शिकायत सेल रजिस्टर का रखरखाव
  • शिकायतों, सतर्कता मामलों के संबंध में आवधिक लाभ
  • राजभाषा- हिंदी का कार्यान्वयन

प्रशासन विभाग

  • कार्यक्रमों का आयोजन
  • केपीएल अधिकारियों के लिए संप्रेषण सुविधाओं सहित यात्रा एवं भ्रमण की व्यवस्था
  • सरकारी अधिकारियों/ अतिथियों के लिए आतिथ्य व्यवस्था
  • अभिकरणों का रखरखाव और उनका बाह्य श्रोतन
  • अस्पताल और विज्ञापन अभिकरणों का मनोनयन
  • प्रेस / मीडिया में विज्ञापन जारी करना
  • चिकित्सा सहायता सहित सीआईएसएफ के प्रशासन संबंधित कार्यों का संपादन
  • स्टेशनरी / बैनर / नाम बोर्ड / डायरी / कैलेंडर इत्यादि की छपाई
  • प्रमुख बंदरगाहों के मध्य खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन

प्रस्तुत सेवाएं

एन्नोर बंदरगाह भू-स्वामी मॉडल के अनुसार काम करता है जिसमे प्रत्यक्ष रूप से बंदरगाह द्वारा समुद्री सेवाएं प्रदान की जाती है और बीओटी/ टर्मिनल परिचालकों के माध्यम से कार्गो प्रबंधन सेवाएं प्रदान की जाती है। ईपीएल द्वारा निम्न समुद्री सेवाएं प्रदान की जाती हैं:

  • बर्थिंग के लिए मार्गदर्शन
  • अन-बर्थिंग और जहाजों का स्थानांतरण
  • कर्षण/ चालन एवं नौबंध प्रमोचन किराया, नौबंध सेवाएं

बीओटी/ टर्मिनल परिचालक द्वारा जहाजी कुली सेवाएं/ कार्गो प्रबंधन सेवाएं प्रदान की जाती है।

सेवाएं उपलब्ध करने की प्रक्रिया

  • स्टीमर एजेंट द्वारा पीसीएस के माध्यम से जहाज के आगमन सहित आवश्यक विवरणों की सूचना दी जानी होगी
  • पीसीएस के माध्यम से बर्थ आवंटन
  • आयात कर औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद बंदरगाह से आयात किए हुए माल की डिलीवरी लेने के लिए आयातक / कस्टम हाउस एजेंट द्वारा आयात आवेदन दायर किया जाना होगा
  • आयात कर औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद बंदरगाह पर निर्यात किया जाने वाला माल उतारने के लिए नौभार प्रेषक / कस्टम हाउस एजेंट द्वारा निर्यात आवेदन दायर किया जाना होगा

प्रदान की जाने वाली सेवाओं का शुल्क

  • कामराजर बंदरगाह के दर मान के अनुसार प्रदान की जाने वाली सेवाओं का उचित शुल्क एकत्रित किया जाता है।

समुद्री सेवाएं

  • जहाजों की बर्थिंग/ अन-बर्थिंग
  • सरकारी परिपत्रों के अनुसार और देय शुल्कों के प्रेषण पर प्राथमिकता बर्थिंग की जाती है
  • बर्थ का किराया शुल्क दर मान के अनुसार है
  • पोर्ट समर्पित है
  • जहाजों की सुरक्षित संचलन और समय पर बर्थिंग / अनबर्थिंग करना
  • फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व आधार पर/ कार्गो आवश्यकता और सरकारी निर्देशों के अनुसार स्पष्ट रूप से बर्थ आवंटन
  • अगर कोई खराबी होती है/ जहाज उपलब्ध नहीं होता है/ काम रुक जाता है/ कर्मचारी विलम्ब से रिपोर्ट करते हैं
  • प्रबंधक (एमई) से संपर्क किया जाना चाहिए

पीओएल उत्पादों का प्रबंधन

  • टर्मिनल प्रबंधक, ईटीटीपीएल से संपर्क किया जाना चाहिए

अग्निशमन सेवाएं (बंदरगाह समर्पित है)

  • पर्याप्त सुरक्षा उपाय अपनाकर और बंदरगाह के कर्मचारियों, प्रचालकों, उपयोगकर्ताओं आदि में आग लगने के कारणों के बारे में जागरूकता पैदा कर आग की रोकथाम करना
  • आग लगने पर आग बुझाना और अन्य जहाजों / क्षेत्रों में आग लगने पर नियंत्रण करना
  • आग के रोकथाम के लिए तेल का फैलाव हटाना
  • आग लगने पर संकेत स्टेशन / दमकल केंद्र / उपस्थित अधिकारी / सीआईएसएफ / उप प्रबंधक (सुरक्षा) / वरिष्ठ प्रबंधक (एमई) / महाप्रबंधक (एमएस) से संपर्क किया जाना चाहिए
  • बंदरगाह को प्रत्याशित हानिकारक कार्गो के बारे में पूर्व-सूचित कर प्रयोक्ता इस सेवा में अत्यधिक सहयोग कर सकते हैं ताकि पर्याप्त सुरक्षा उपाय अपनाया जा सके

माल के परिवहन के लिए वाहनों को गेट पास और वाणिज्यिक पास ज़ारी करना

  • बंदरगाह के अधिकृत उपयोगकर्ताओं और वाहनों के लिए पास जारी करना
  • इस उद्देश्य के लिए उपस्थित अधिकारियों (पास प्रभाग) से संपर्क किया जाना चाहिए
  • किसी भी विलंब/ अभाव के मामले में महाप्रबंधक (एमएस) को सूचित किया जा सकता है
  • उपयोगकर्ताओं को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे निर्दिष्ट शुल्कों का भुगतान कर उचित पास के लिए आवेदन करे और अपनी बारी की प्रतीक्षा करें
  • उपयोगकर्ताओं को यह सुनिश्चित करना होगा कि बंदरगाह के अंदर सेवा प्रदान करने वाले उनके ठेकेदारों और उप-ठेकेदारों और अन्य कर्मचारियों को आईएसपीएस संहिता के अनुपालनों के बारे में ज्ञात हो
  • उपयोगकर्ताओं को किसी भी संदिग्ध गतिविधियों, वस्तुओं, व्यक्ति के मामले में बिना किसी विलंब के पीऍफ़एसओ/ उप पीऍफ़एसओ/ संकेत स्टेशन/ सीआईएसऍफ़ नियंत्रण को सूचित करना होगा।
  • उपयोगकर्ताओं को यह सुनिश्चित करना होगा कि बंदरगाह के परिसर के भीतर मौजूद रहने पर वे अपना पास प्रदर्शित करे

विद्युत/ जल आपूर्ति

  • विद्युत आपूर्ति के लिए जीएम (ओ) को लिखित रूप से सटीक स्थान, आदि, की सूचना प्रदान की जानी होगी
  • जल आपूर्ति के लिए जीएम (एमएस) को लिखित रूप से सटीक आवश्यकता की सूचना प्रदान की जानी होगी
  • व्यवहार्यता की जांच करने के बाद बंदरगाह देय भुगतानों की सूचना देगा
  • राशि के प्रेषण पर, बंदरगाह विद्युत / जल आपूर्ति प्रदान करने के लिए आवश्यक व्यवस्था करेगा

माल गाड़ियों का प्रवेश / निकास मार्ग (बंदरगाह समर्पित है)

  • गेट पर की प्रतीक्षा समय घटाना, जिससे अधिक से अधिक वाहन आ-जा सके (दोनों तरफ से)
  • अस्थायी जाम के कारण वाहनों के प्रस्थान/ प्रवेश में विलंब हो सकता है, ऐसी स्थिति में नियंत्रण कक्ष, सीआईएसएफ से संपर्क किया जाना चाहिए
  • यह उम्मीद की जाती है कि उपयोगकर्ता बंदरगाह के सुरक्षा आवश्यकताओं का पालन करे, वाहनों इत्यादि के लिए आवश्यक सभी दस्तावेजों और प्रमाण पत्रों को अपने साथ रखे, और एक कतार में अपनी बारी आने का इंतजार करे

सुरक्षा एवं व्यवसायिक स्वास्थ्य

  • किसी भी दुर्घटना के मामले में तत्काल एएम (सुरक्षा) को सूचित किया जाना चाहिए, फिर चाहे वह दुर्घटना छोटी हो या कोई जानलेवा दुर्घटना हो
  • बंदरगाह के परिचालकों/ उपयोगकर्ताओं के हित के लिए व्यावसायिक स्वास्थ्य केंद्र 24/7 काम करता है और साथ हीं बंदरगाह के परिसर के भीतर पर्याप्त संख्या में देखभाल कर्मचारी भी उपस्थित रहते हैं
  • सभी जीवनरक्षक प्राथमिक उपचार सुविधाएं ओएचसी में उपलब्ध हैं
  • बंदरगाह के परिसर के अंदर 24 घंटे एम्बुलेंस उपलब्ध है
  • किसी को कोई भी गंभीर चोट आने के मामले में रोगी को आवश्यक प्राथमिक चिकित्सा प्रदान किए जाने के पश्चात उसे करीबी अस्पताल ले जाया जाएगा

बीओटी परिचालकों का संपर्क विवरण

टर्मिनल बीओटी परिचालक
समुद्री तरल टर्मिनल एन्नोर टैंक टर्मिनल्स प्राइवेट लिमिटेड,
तीसरी मंजिल, पी.टी. एलईई, चेंगलवरया नाईकर मालीगई,
23, राजाजी सलाई, चेन्नई-600 001. दूरभाष सं: 044-25219697
फैक्स सं: 044-25219696
संपर्क किए जाने वाले व्यक्ति:
श्री एन.एम.जे दुरईराज
ई-मेल: nmjd@imc.net.in
श्री पी.आर नम्बिअर
ई-मेल: prnanbiar@imc.net.in
वेबसाइट:
www.ettpl.net.in
कोयला टर्मिनल चेट्टीनाड इंटरनेशनल कोल टर्मिनल,
रानी सीथई हॉल भवन, छठी मंजिल,
603, अन्ना सलाई, चेन्नई-600 006
दूरभाष: 044-42988666
ई-मेल: info-cictl@chettinad.com
वेबसाइट:
http://www.chettinad.com/coalterminal.htm

मुख्य अधिकारियों का विवरण

सीएमडी और निदेशक बोर्ड (पूर्ण कालिक)

क्रमांक नाम और पद पता/ दूरभाष सं
1. श्री एम.ए भास्करचर
अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक
चौथी मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)
2. --
निदेशक (संचालन)
चौथी मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)

सतर्कता

क्रमांक नाम और पद पता/ दूरभाष सं
1. श्री टी. कंडासामी, आईपीएस
मुख्य सतर्कता अधिकारी
चौथी मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)

निगम की रणनीति एवं व्यवसाय विकास विभाग

क्रमांक नाम और पद पता/ दूरभाष सं
1. श्री संजय कुमार
जीएम (सीएस और बीडी)
प्रथम मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)
2. श्री वी.एन नागराजन
मुख्य प्रबंधक (परियोजनाएं)
वल्लूर पोस्ट
चेन्नई - 600 120
दूरभाष: +91-44-27950030 - 39

वित्त/ लेखा एवं सचिवालयिक विभाग

क्रमांक नाम और पद पता/ दूरभाष सं
1. श्री एम. गुणसेखरण
जीएम (वित्त)
प्रथम मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)
2. श्रीमती जयलक्ष्मी श्रीनिवासन
वरिष्ठ प्रबंधक (कंपनी सचिव)
चौथी मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)

प्रचालन विभाग

क्रमांक नाम और पद पता/ दूरभाष सं
1 श्री वी. कृष्णासामी
जीएम (प्रचालन)
वल्लूर पोस्ट
चेन्नई - 600 120
दूरभाष: +91-44-27950030 - 39
2 श्री पी. राधाकृष्णन
डीजीएम (सिविल)
वल्लूर पोस्ट
चेन्नई - 600 120
दूरभाष: +91-44-27950030 - 39

समुद्री विभाग

नाम और पद कॉर्पोरेट कार्यालय - पता/ दूरभाष सं बंदरगाह - पता/ दूरभाष सं
कप्तान ए.के. गुप्ता
महाप्रबंधक (एमएस)
चौथी मंजिल, सुपर स्पेशलिटी डायबिटिक सेंटर
राजाजी सलाई
चेन्नई - 600001
दूरभाष: +91-44-25251666 (5lines)
वल्लूर पोस्ट
चेन्नई - 600 120
दूरभाष: +91-44-27950030 - 39

सूचना अधिकार अधिनियम 2005 के तहत मनोनीत अधिकारी

नाम और पद विभाग दूरभाष सं सूचना अधिकार अधिनियम 2005 के तहत मनोनयन
श्रीमती जयलक्ष्मी श्रीनिवासन
कंपनी सचिव
  044-25251666 पीआईओ
श्री संजय कुमार
जीएम (सीएस और बीडी)
  044-25251666 अपीलीय प्राधिकारी

आईएसपीएस के तहत मनोनीत अधिकारी

नाम और पद विभाग दूरभाष सं आईएसपीएस के तहत मनोनयन
कप्तान ए.के गुप्ता
महाप्रबंधक (एमएस)
समुद्री 044-27950018 पीऍफ़एसओ

लोकपाल

क्रमांक नाम पद
1. -- स्वतंत्र निदेशक